Connect with us

43 साल बाद भी ड्रीम गर्ल बसंती के किरदार को मानती हैं महिला सशक्तिकरण का प्रतीक

 43 साल बाद भी ड्रीम गर्ल बसंती के किरदार को मानती हैं महिला सशक्तिकरण का प्रतीक

Image credit: Twitter

43 साल पहले फिल्म 'शोले' में निभाए गए 'बसंती' के किरदार को बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी ने महिला सशक्तिकरण का प्रतीक बताया, क्योंकि बसंती बॉलीवुड फिल्मों की पहली ऐसी औरत थी, जिसने तांगा चलाया. बीते गुरुवार को कलकत्ता में आयोजित इंफोकॉम 2018 के 'इन द स्पॉटलाइन' सत्र में लोगों को संबोधित करते हुए मथुरा से लोकसभा सांसद ने कहा," जब मैं प्रचार के लिए जाती हूं तो वहां मौजूद औरतों को बसंती तांगवाले से खुद को कम नहीं समझने की सलाह देती हूं."

read more at Aajtak

0 0 0 0 0
Loading...


मनोरंजन से जुडी ताज़ा खबरे